Winter Char Dham Yatra Plan | चारधाम शीतकालीन यात्रा कैसे करे

Winter Char Dham Yatra Plan. चारधाम शीतकालीन यात्रा कैसे करे ? मेरा आज कका यह आर्टिकल चार धाम शीतकालीन यात्रा से जुड़ा है। जिसमे मैं आप सभी को बताने वाला हु कि आप किस तरह चार धाम की शीत कालीन यात्रा कर सकते हो।

Jan 11, 2024 - 08:15
Jan 11, 2024 - 08:15
 0
Winter Char Dham Yatra Plan | चारधाम शीतकालीन यात्रा कैसे करे
Winter Char Dham Yatra Plan

Winter Char Dham Yatra Plan. चारधाम शीतकालीन यात्रा कैसे करे ? मेरा आज कका यह आर्टिकल चार धाम शीतकालीन यात्रा से जुड़ा है। जिसमे मैं आप सभी को बताने वाला हु कि आप किस तरह चार धाम की शीत कालीन यात्रा कर सकते हो।

Winter Char Dham Yatra Plan

Winter Char Dham Yatra Plan

चार धाम यात्रा के बारे में तो आप सभी लोग जरुर जानते होंगे। चार धाम की यात्रा उत्तराखंड की वो यात्रा है जिसमे हर साल लाखो लोग यात्रा पर आते है। और यह चार धाम की यात्रा हर साल 6 महीने के लिए खुलती है और 6 महीने के लिए बंद रहती है। गर्मी के मोसम में यात्रा खुली रहता है और ठण्ड के मोसम में ज्यादा बर्फ़बारी होने के कारण यात्रा बंद हो जाती है।   

जब कपाट बंद हो जाते हैं तो काफी लोग ऐसे हैं जो सर्दियों के मौसम में इन चार धाम की यात्रा करना चाहते हैं। लेकिन जो चार धाम की यात्रा है उसमें सर्दियों के टाइम में किसी को नहीं जाने दिया जाता। क्योंकि वहां इतनी ज्यादा बर्फ होती है कि कोई वहां जहां जा नहीं सकता। इसलिए चारो धाम के कपाट सर्दी के मौसम में बंद कर दिए जाते है।  लेकिन अब बात आते की आखिर हम किस तरह सर्दियों में चारों धाम की यात्रा कर सकते हैं।  

तो देखिए मैं आपको बताना चाहूंगा आप चारों धाम तो नहीं जा सकते, लेकिन आप सर्दियों मेंइन चारों धाम में मौजूद उन मूर्तियों के, उन डोली के दर्शन कर सकते हैं जो की यात्रा के दौरान मंदिर के अंदर रखी गई होती है। तो यहां मैं आपको उन जगह के बारे में बताने वाला हूं जहां आप Winter Char Dham Yatra Plan बना सकते हो। और Winter Char Dham Yatra कर सकते हो।  यानी सर्दियों के मौसम में चार धाम की यात्रा कर सकते हैं।

अगर आप सर्दियों के मौसम में चार धाम की यात्रा करना चाहते हैं। तो मैं आपको पूरा स्टेप बाय स्टेप बताऊंगा कि आपको कितने दिन लगने वाले है, आपको कहां से कहां जाना है, कहां आपको नाइट स्टे करना है। और यह जो सदियों का मौसम है इसमें आपको रहने खाने किसी भी तरह की कोई प्रॉब्लम नहीं होने वाली। लेकिन जब ज्यादा शुरू होती है तो ज्यादा भीड़ होने की वजह से रहने में भी दिक्कत आती है। और खाने पीने के लिए देखिए कोई दिक्कत नहीं है खाने-पीने में तो आपको सभी जगह आपकी मनपसंद चीज मिल जाती है।  

सर्दियों के मौसम में चारों धाम की यात्रा करने के लिए सबसे पहले आपको यमुनोत्री धाम में जो यमुना माता की मूर्ति है उन्हीं के दर्शन करने होंगे। और जो यमुना माता की शीतकालीन दर्शन है  वह आपको kharsaali गांव के शनिदेव मंदिर में होते हैं। खरसाली गाव आप किस तरह पहुंच सकते हैं उसकी जानकारी आपको 👉यहां क्लिक करके👈  मिल जाएगी।  

अब बात आती है गंगोत्री धाम की, तो गंगोत्री धाम में जो गंगोत्री माता की मूर्ति है। उनके शीतकालीन दर्शनआप मुख मठ में कर सकते हैं। मुखीमठ  आप किस तरह पहुंच सकते हो, इसकी पूरी जानकारी आपको 👉यहां क्लिक करके👈 मिल जाएगी। 

 गंगोत्री धाम के दर्शन करने के बाद अब बारी आती है केदारनाथ धाम की। तो आपको जो केदारनाथ धाम की शीतकालीन पूजा है वह आपको ओंकारेश्वर मंदिर में जाकर करनी होगी। ओंकारेश्वर मंदिर में ही आपको केदारनाथ धाम में मौजूद पंचमुखी के दर्शन होंगे। और वहीं पर जाकर आप केदारनाथ धाम के दर्शन कर सकते हैं। ओंकारेश्वर मंदिर किस तरह पंहुचा जाता है इसकी पूरी जानकारी आपको 👉यहां क्लिक करके👈 मिल जाएगी। 

 केदारनाथ के बाद बारी आती है बद्रीनाथ की, तो बद्रीनाथ में जो आपको शीतकालीन दर्शन है वह होने वाले हैं Narsingh Devta मंदिर में। वहीं जाकर आप बद्रीनाथ धाम के शीतकालीन दर्शन कर सकते हैं। अब बात आती है कि आखिर आप बद्रीनाथ के शीतकालीन दर्शन करने के लिए आप Narsingh Devta मंदिर कैसे जा सकते हो।   Narsingh Devta मंदिर जाने पूरी जानकारी आपको 👉यहां क्लिक करके👈 मिल जाएगी। 

Winter Char Dham Mandir
यमुनोत्री धाम शीतकालीन मंदिर   शनिदेव मंदिर खरसाली गाव 
गंगोत्री धाम शीतकालीन मंदिर मुखीमठ 
केदारनाथ धाम शीतकालीन मंदिर  ओम्कारेश्वर मंदिर 
बद्रीनाथ धाम शीतकालीन मंदिर  Narsingh Devta मंदिर 

 तो देखिये मैंने आपको पूरी लोकेशन बता दी है। कि जो चारों धाम की शीतकालीन दर्शन है वह आपकी इस जगह कर सकते हैं। अब बारी आती है आपको इन चारों धाम के दर्शन करने में कितने दिन लगने वाले है। तो उसकी पूरी जानकारी मैं आपको नीचे दे रहाहूं। 

Winter Char Dham Yatra Day by Day Plan 👇

👉Day 1- Winter Char Dham Yatra करने के लिए जो आपका पहला दिन होगा वह आपका होगा हरिद्वार से खरसाली गाँव। खरसाली गाँव के शनिदेव मंदिर में दर्शन करने के बाद आप उसी दिन वापिस बडकोट आकर नाईट स्टे करेंगे। 

👉Day 2- दूसरे दिन आप बारकोड से गंगोत्री धाम के दर्शन करेंगे और फिर वापसी आप उत्तरकाशी आ जाएंगे। 

👉Day 3- तीसरे दिन आप उत्तरकाशी से उखीमठ जाकर उखीमठ में नाईट स्टे करेंगे।  

👉Day 4- चौथे दिन आप उखीमठ में ओम्कारेश्वर मंदिर जाकर पञ्च मुखी के दर्शन करने के बाद सीधा बद्रीनाथ धाम के दर्शन करने के लिए निकल जाएंगे। 

👉Day 5-और पांचवें दिन आप बद्रीनाथ के दर्शन करने के बाद सीधा हरिद्वार आ जाएंगे।  

तो देखिए Winter Char Dham Yatra करने में आपको कम से कम 6 दिन का टाइम लगने वाला है। तो आप मेरे द्वारा बताए के तरीके से अपनी Winter Char Dham Yatra कर सकते हैं। और बहुत ही आराम सर्दियों में भी इन चारों धाम के दर्शन कर उन मूर्तियों के चारों धाम के दर्शन का वह फल प्राप्त कर सकते हैं, जो कि लोग चार धाम यात्रा के दौरान प्राप्त करते हैं। 

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow

Yatra Gyan Har Har Mahadev. Agar aapko Kedarnath Yatra ya Chardham Yatra se judi Help Chahiye to aap mujhe 7060830844 Par Call Karke Meri Help Le sakte ho. Mera Naam Mayank hai or Me Haridwar Uttarakhand se hu.